एलिमिनेटर-1: बेंगलुरु बुल्स ने 48-45 से यूपी योद्धा को शिकस्त देकर सेमीफ़ाइनल में बनाई जगह, यूपी योद्धा का सफ़र ख़त्म

अहमदाबाद, 14 अक्टूबर 2019: सोमवार को अहमदाबाद के एका एरेना के ट्रांसस्टेडिया में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के एलिमिनेटर-1 में बेंगलुरु बुल्स ने यूपी योद्धा को 48-45 से मात देकर लगतार दूसरे सीज़न में सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली। 16 अक्टूबर को अब बेंगलुरु बुल्स का सामना पहले सेमीफ़ाइनल में दबंग दिल्ली के साथ होगा। जबकि इस हार के साथ यूपी योद्धा का सीज़न-7 का सफ़र यहीं थम गया। बेंगलुरु बुल्स के लिए जीत के हीरो एक बार फिर पवन सहरावत रहे, जिन्होंने सुपर-10 के साथ 20 रेड प्वाइंट्स लिए, तो यूपी की ओर से ऋषांक देवाडिगा ने सुपर-10 हासिल किया। साथ ही साथ नितेश कुमार और सुमित ने हाई फ़ाइव लिए लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए।

पहला हाफ़ बेहद रोमांचक और उतार चढ़ाव से भरा रहा, जहां शुरुआती लम्हों में यूपी योद्धा बेहतरीन फ़ॉर्म में दिख रही थी और बेगंलुरु बुल्स को ऑलआउट करते हुए 15-4 की बढ़त बना ली थी। इस दौरान पवन सहरावत रंग में नहीं दिख रहे थे और लगातार वह यूरी के योद्धाओं के ज़रिए टैकल किए जा रहे थे। लेकिन ऑलआउट होने के बाद दोबारा कोर्ट पर आई बेंगलुरु एक अलग अंदाज़ में नज़र आई और पवन सहरावत की आंधी भी आई, जब उन्होंने सुपर रेड करते हुए 4 रेड प्वाइंट्स लिए और फिर इस सिलसिले को लगातार आगे बढ़ाते रहे। हाफ़ टाइम से पहले पवन ने एक बेहेतरीन रेड करते हुए यूपी के बचे दो खिलाड़ियों का शिकार करते हुए यूपी को पहली बार ऑलआउट कर दिया था। हाफ़ टाइम तक बढ़त तो यूपी के पास 20-17 से थी लेकिन बेंगलुरु ने कमाल की वापसी कर ली थी।

दूसरे हाफ़ में भी यूपी का डिफ़ेंस कमाल का खेल रहा था और इसका आगे से नेतृत्व कर रहे थे कप्तान नितेश कुमार। जिन्होंने अपने सीज़न का 6ठा हाई फ़ाइव हासिल कर लिया था, पहले हाफ़ में 8 रेड प्वाइंट्स लेने वाले पवन दूसरे हाफ़ में 35वें मिनट तक बस एक रेड प्वाइंट्स ले पाए थे। मैच में अब 6 मिनट का खेल बचा था और अभी भी यूपी के पास 7 अंकों की बढ़त हासिल थी, जो गत विजेता बेंगलुरु बुल्स के लिए अच्छी तस्वीर नहीं थी। लेकिन 38वें मिनट में पवन सहरावत ने अपनी एक ही रेड में यूपी के बचे दो खिलाड़ियों को ऑलआउट करते हुए अपना सुपर-10 पूरा किया और अब स्कोर 34-33 हो चुका था जो अगले ही पल बेंगलुरु बुल्स ने 34-34 करते हुए स्कोर बराबर कर दिया था। अब मैच कहीं भी जा सकता था, और इसके बाद पवन ने एक और मल्टीप्वाइंट्स रेड लाते हुए पहली बार बेंगलुरु को मैच में बढ़त दिला दी थी। लेकिन इसके बाद यूपी ने संयम बरक़रार रखा, और मैच 36-36 से टाई हो गया था। ये एलिमिनेटर मुक़ाबला था इसलिए अब खेल अतिरिक्त 7 मिनटों में चला गया था, जहां 3-3 मिनट के दो हाफ़ खेले गए।

अतिरिक्त मिनट पहला हाफ़

ऋषांक देवाडिगा ने पहले ही रेड में दो खिलाड़ियों का शिकार बनाते हुए अब यूपी  को दो अंकों की बढ़त दिला दी थी। अतिरिक्त मिनट के पहले हाफ़ में यूपी ने कुल 3 प्वांट्स लिए जबकि बेंगलुरु को दो अंक मिले, इस तरह पहले अतिरिक्त हाफ़ के बाद यूपी 39-38 से आगे थे।

 

अतिरिक्त मिनट दूसरा हाफ़

दूसरे अतिरिक्त हाफ़ में सुमित ने अपना हाई फ़ाइव पूरा करते हुए यूपी को दो अंक की बढ़त दिला दी, जो अगले ही मिनट पवन सहरावत ने सुपर रेड करते हुए एक ही रेड में 4 शिकार करते हुए बेंगलुरु को 43-40 से आगे कर दिया था और यही मैच का टर्निंग प्वाइंट बन गया। हालांकि मोनू गोयत ने अपनी अगली रेड में टच और बोनस के साथ दो अंक लिए और अब यूपी एक अंक से ही पीछे रह गई थी। पवन ने इसके बाद एक और मल्टीपल प्वाइंट्स रेड करते हुए यूपी को ऑलआउट कर दिया था और अब बढ़त 5 अंकों की हो गई थी और समय बचा था बस 1.30 मिनट। यहां से यूपी के लिए वापसी अब नामुमकिन थी और जैसे व्हिसल बजी, बेंगलुरु ने मुक़ाबला जीतते हुए सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली।

इस मैच के बाद गुजरात फ़ॉर्च्यूनजाएंट्स के कोच मनप्रीत सिंह जो कॉमेंट्री बॉक्स में मौजूद थे, उन्होंने कहा, ‘’ये एक सांस रोक देने वाला मुक़ाबला था, पहली बार प्रो कबड्डी इतिहास में कोई एलिमिनेटर मुक़ाबला टाई हुआ। पवन सहरावत ने आज बिल्कुल वैसा ही खेला जैसा उन्होंने हमारे साथ पिछले सीज़न के फ़ाइनल में खेला था और वह क़ामयाब रहे।‘’

अब 16 अक्टूबर को पहले सेमीफ़ाइनल में बेंगलुरु बुल्स की टक्कर दबंग दिल्ली से होगी तो उसी दिन दूसरे सेमीफ़ाइनवल में बंगाल वॉरियर्स के सामने एलिमिनेटर-2 के विजेता की चुनौती होगी।

वीवो प्रो कबड्डी सीज़न-7 के सभी मुक़ाबलों के लिए आप मैच की शाम 7 बजे से स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क और हॉटस्टार पर ट्यून कर सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.