टॉप 5: प्रो कबड्डी के टॉप 5 ऑलराउंडर्स पर नज़र।

कबड्डी मैं हर एक टीम में ऑलराउंडर होना हमेशा एक टीम के लिए फायदेमंद है। वह मैच में सबसे सक्रिय खिलाड़ी है। एक पल में वो टीम के लिए रेड भी कर सकते हैं और साथ ही वो अपने टीम के लिए एक नयी स्ट्रेटजी भी बना सकते हैं और साथ ही वो सामने वाले टीम मैं से आए हुए राइडर को टॅकल भी कर सकते हैं।

वह एक राइडर या डिफेंडर के टेबल मैं टॉप मैं नहीं हो सकता है लेकिन टीम में उनका योगदान हमेशा अधिक होता है। प्रो कबड्डी लीग में कुछ खिलाड़ी हैं जो अपने ऑल-राउंड कौशल के साथ अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

पीकेएल के इतिहास के टॉप 5 ऑलराउंडर्स पर नज़र डालें:

1) दीपक हुड्डा- जयपुर पिंक पैंथर्स
दीपक एक राइडिंग ऑलराउंडर है। वह ज्यादातर राइडिंग के लिए जाना जाता है लेकिन अगर उसकी टीम की जरूरत होती है तो वह डिफेंडर की भूमिका भी निभा सकता है। दीपक ने प्रो कबड्डी लीग के पहले सीज़न में 14 मैचों में 87 रेड पॉइंट और 2 टॅकल पॉइंट बनाए।

उन्होंने 15 मैचों से 60 रेड पॉईंट्स और 36 टॅकर पॉइंट्स जीत लिए हैं । तेलुगू टाइटन्स से पहले दो सीज़न के खेल के बाद, दीपक को 3 सीज़न में पुणेरी पलटन द्वारा खरीदा गया था। उन्होंने अगले तीन सीज़न में पुणेरी पलटन का प्रतिनिधित्व किया था । 12 मैचों में 69 रेड पॉइंट और 7 डिफेंस पॉईंट्स किए है।

दीपक पुणेरी पलटन के लिए प्रमुख राइडर बन गए और इसलिए वह एक सीज़न में डिफेंस में ध्यान नहीं दे सके। उन्हें 16 मैचों में 126 रेड पॉईंट्स और 4 टॅकल पॉईंट मिले थे । सीज़न 5 में भी ऐसा ही हुआ था जहां दीपक ने 24 मैचों में 172 रेड पॉईंट्स और 14 डिफेंस पॉइंट्स थे।

दीपक ज्यादातर राइडिंग में रनिंग हैंड टच और डिफेंस मैं अॅंकल टच का खेलते हुए इस्तेमाल करते हैं। दीपक प्रो कबड्डी लीग के आने वाले सीज़न 6 में जयपुर पिंक पैंथर्स के जर्सी मैं दिखाई देंगे।

2) मनजीत चिल्लर- तमिल थालीवास
मनजीत एक बेहतरीन खिलाड़ी है जो कि पीकेएल के इतिहास के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में से एक है। ज्यादातर वह एक डिफेंडर के रूप में खेलते हैं लेकिन स्थिति के आधार पर, वह राइडिंग करने में भी ध्यान देते हैं।

सीज़न 1 में उन्होंने बेंगलुरु बुल्स के लिए 16 मैचों में 71 रेड पॉइंट और 51 टॅकल पॉइंट बना लिए हैं । उन्हें सीज़न के ‘सर्वश्रेष्ठ डिफेंडर’ के रूप में सम्मानित किया गया। मनजीत ने सीजन 2 में बेंगलुरू बुल्स के लिए खेले गए उसमे उन्होंने 16 मैचों में 67 रेड पॉइंट और 40 टॅकल पॉइंट हासिल किए गए । उन्हें सीजन का ‘सर्वाधिक मूल्यवान खिलाड़ी’ का खिताब मिला है ।

सीज़न 3 में भी मनजीत ‘बेस्ट डिफेंडर’ बन गया जहां उन्होंने 45 रैड पॉइंट और पुणेरी पलटन के लिए खेले गए वहा उन्होंने 15 मैचों में से 61 पॉइंट्स प्राप्त किए गए । सीजन 4 में चोट लगने के कारण, मनजीत ने पुणेरी टीम के लिए कुछ मैच खेल नहीं पाए । लेकिन उस सीज़न में 12 मैचों से 45 रेड पॉइंट और 44 रन पॉइंट स्कोर करने में सफल रहा।

सीजन 5 में, मनजीत को अच्छे से खेल नहीं पाए । जयपुर पिंक पैंथर्स के लिए उन्होंने 15 मैचों में सिर्फ 5 रेड पॉईंट्स और 47 टॅकल पॉइंट्स बनाए थे । डिफेंस करते समय मनजीत ब्लॉक और डैश का इस्तेमाल करता है। 6 सीज़न में मनजीत तमिल थालीवास का हिस्सा होंगे।

3) संदीप नरवाल- पुणेरी पलटन
पीकेएल इतिहास के तीसरे सबसे सफल ऑलराउंडर्स होने के नाते, जब भी उनकी टीम की जरूरत होती है तो संदीप नारवाल हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाते हैं । वह पहले 3 सीज़न मैं पटणा पायरट टीम के साथ खेल रहे थे

सीज़न 1 में उन्होंने 16 मैचों में 92 रैड पॉइंट और 27 रन पॉइंट बनाए। 16 मैचों में खेलकर संदीप ने पीकेएल के दूसरे संस्करण में 46 रेड अंक और 37 टॅकल के अंक अर्जित किए। सीज़न 3 के बाद से वह रक्षा पर अधिक ध्यान केंद्रित कर रहा है।

उन्होंने 14 मैचों में 9 रेड पॉइंट और 55 डिफेंस पॉइंट्स बनाए । वह उस सीजन के दूसरे सर्वश्रेष्ठ डिफेंडर थे । संदीप को 4 फरवरी में तेलुगू टाइटन्स के साथ खेल रहे थे । वह 24 रेड पॉइंट और 42 पॉइंट हासिल करने में सफल रहे है ।

सीजन 5 में संदीप पुणेरी पलटन चले गए जहां उन्होंने 33 रेड पॉइंट और 52 टॅकल पॉइंट हासिल करने में सफल रहे हैं । संदीप डिफेंस में अपने ब्लॉक और डैश के साथ बहुत सफल रहे हैं। सीज़न 6 में संदीप पुणेरी पलटन के लिए खेलेंगे।

4) मेराज शेख- दबंग दिल्ली के. सी.
इरानी मेराज शेख भी पीकेएल के टॉप ऑलराउंडर्स की सूची में हैं। मेरज ने पीकेएल के सीजन 2 में खेला जहां उन्होंने 15 मैचों में 29 रेड पॉइंट और 9 टॅकल पॉइंट बनाए।

मेरज के नाम पर सीज़न 3 में 27 रैड पॉइंट और 21 टॅकल पॉइंट थे। सीजन 4 में 14 मैचों मैं उन्होंने 63 रेड पॉइंट और 12 डिफेंस पॉइंट किए थे। उस सीज़न मैं मेराज दिल्ली के.सी. के लिए खेले थे।

सीजन में 5 मेराज की भूमिका एक डिफेंडर की तुलना में एक राइडर के रूप में अधिक थी। उन्होंने 20 मैचों में 96 रेड पॉइंट और 8 डिफेंस पॉइंट बनाए थे । स्कॉर्पियो किक और फ्रॉग जंप मेराज के सिग्नेचर राइडिंग मूव है । पीकेएल के आने वाले सीज़न में, एक बार फिर मेराज दबांग दिल्ली के.सी. का हिस्सा होगा।

5) राजेश नरवाल- दबंग दिल्ली के.सी.
राजेश नरवाल एक सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक है जिसे प्रो कबड्डी ने कभी बनाया था । राजेश ने जयपुर पिंक पैंथर्स से पहले चार सीज़न खेले है । उन्होंने सीज़न 1 में 16 मैचों में 72 रेड पॉइंट और 26 टॅकल पॉइंट बनाए। अगले सीज़न में उन्होंने 14 मैचों से 69 रैड पॉइंट और 16 टॅकल पॉइंट बनाए थे। राजेश सीजन में 14 मैचों में 59 रेड पॉइंट और 21 डिफेंस पॉइंट हासिल करने में सफल रहे थे । राजेश सीजन 4 में भी उन्होंने बेहतरीन खेल दिखाया और उन्होंने 16 मैचों में 66 रेड पॉइंट और 19 टॅकल पॉइंट बनाए थे।

जयपुर के लिए 4 सीज़न खेलने के बाद, सीज़न 5 में राजेश को यूपी योद्धा के तरफ से खेले थे । उन्होंने उस सीज़न मैं अच्छा खेल नहीं दिखा पाए और 11 मैचों में केवल 16 रेड और टॅकल पॉइंट बनाए थे । राजेश अपने टो टच के स्पर्श और हैंड टच में बहुत ही माहिर है। पीकेएल के सीज़न 6 मैं राजेश दबंग दिल्ली के.सी. टीम में होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.